होम / दो लाइन शायरी / चेहरे अजनबी हो जाये

चेहरे अजनबी हो जाये

( एडमिन द्वारा दिनाँक 09-01-2016 को प्रस्तुत )
-Advertisement-

लिखना तो ये था कि खुश हूँ तेरे बगैर भी,
पर कलम से पहले आँसू कागज़ पर गिर गया
--------------------------------------
चेहरे अजनबी हो जाये तो कोई बात नही,
रवैये अजनबी हो कर बडी तकलीफ देते हैं।
--------------------------------------
ना जाने वक्त खफा है या खुदा नाराज है हमसे,
दम तोड़ देती है हर खुशी मेरे घर तक आते आते।
--------------------------------------
पत्थर भी तो अब मुझसे किनारा करने लगे,
कि तुम ना सुधरोगे मेरी ठोकरे खा कर।

-Advertisement-

आप इन्हें भी पसंद करेंगे

-Advertisement-
पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi