होम / कैटेगरी : दर्द शायरी

हिंदी में दर्द शायरी

जब किसी का दर्द...

जब किसी का दर्द हद से गुजर जाता है
तो समंदर का पानी आँखों में उतर आता है,
कोई बना लेता है रेत से आशियाना तो,
किसी का लहरों में सब कुछ बिखर जाता है।

राहुल अवस्थी द्वारा दिनाँक 17.09.17 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

दर्द बेचारा परेशाँ...

एक दो ज़ख्म नहीं जिस्म है सारा छलनी
दर्द बेचारा परेशाँ है... कहाँ से निकले।

एडमिन द्वारा दिनाँक 29.08.17 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

क़ातिल से दोस्ताना...

मिले न फूल तो काँटों से जख्म खाना है,
उसी गली में मुझे बार-बार जाना है,
मैं अपने खून का इल्जाम दूँ तो किसको दूँ,
लिहाज ये है कि क़ातिल से दोस्ताना है।

केशपाल यादव द्वारा दिनाँक 01.08.17 को प्रस्तुत | कमेंट करें

दर्द-ए-दिल छुपाना मुश्किल...

हाल-ए-दिल अब बताना मुश्किल हुआ,
दर्द-ए-दिल अब छुपाना मुश्किल हुआ।

मांगी थी रब से थोड़ी अपने लिए खुशी,
अब खुशियों को हमें पाना मुश्किल हुआ।

खामोशी में रहगुज़र भटकी सी जिंदगी,
अब अश्कों को आँखों में मिलना मुश्किल हुआ।

चाहत थीं हर खुशी में शरीक हो जो अपने,
अब उन्हीं से नजरें चुराना मुश्किल हुआ।

क्या खता थी मेरी जो समझ भी ना सके,
कब खुद को उन्हें समझना मुश्किल हुआ।

-विवेक श्रीवास्तव

विवेक श्रीवास्तव द्वारा दिनाँक 25.07.17 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

कुछ लोग बेरहमी से...

लोग तो अपना बना कर छोड़ देते हैं,
कितनी आसानी से गैरों से रिश्ता जोड़ लेते हैं,
हम एक फूल तक ना तोड़ सके कभी,
कुछ लोग बेरहमी से दिल तोड़ देते हैं।

दीपक कुमार द्वारा दिनाँक 20.07.17 को प्रस्तुत | कमेंट करें

पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi