होम / कैटेगरी : दिल शायरी

Dil Shayari in Hindi

सो जा ऐ दिल...


सो जा ऐ दिल आज धुंध बहुत है... तेरे शहर में
अपने दिखते नहीं और जो दिखते है वो अपने नहीं।



एडमिन द्वारा दिनाँक 07.12.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

पुकार के लाया...


चल न उठके वहीं चुपके चुपके तू ऐ दिल,
अभी उसकी गली से पुकार के लाया हूँ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 30.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

दिल सफर में है...


तमाम लोगों को अपनी अपनी मंजिल मिल चुकी,
कमबख्त हमारा दिल है, कि अब भी सफर में है।



गणपत खिची द्वारा दिनाँक 29.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें

दिल खो चुके...


दिलबर की दिल-लगी में
दिल अपना खो चुके हैं,
कल तक तो खुद के थे
आज आप के हो चुके हैं।



बलविंदर कुमार द्वारा दिनाँक 25.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

दिल की हक़ीक़त...


ना पूछ दिल की हक़ीक़त मगर ये कहता है,
कि वो बेक़रार रहे जिसने बेक़रार किया।


दिल की हक़ीक़त शायरी

एडमिन द्वारा दिनाँक 21.10.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...