होम / कैटेगरी : दिल शायरी

Dil Shayari in Hindi

ले चल आज वहीं...


कल जहाँ से कि उठा लाए थे अहबाब मुझे,
ले चल आज वहीं फिर दिल-ए-बे-ताब मुझे।



एडमिन द्वारा दिनाँक 18.07.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

दिल वो है जो...


दिल वो है जो फ़रियाद से भरा रहता है हर वक़्त,
हम वो हैं कि कुछ मुँह से निकलने नहीं देते।

- अहमद फ़राज़


एडमिन द्वारा दिनाँक 05.07.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

जो दिल माँगा तो...


किसी का क्या जो क़दमों पर जबीं-ए-बंदगी रख दी,
हमारी चीज़ थी हमने जहां जानी वहां रख दी,
जो दिल माँगा तो वो बोले ठहरो याद करने दो,
ज़रा सी चीज़ थी हमने जाने कहाँ रख दी।



एडमिन द्वारा दिनाँक 20.06.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें

दिल अगर बेनकाब होता...


किसी के दिल में क्या छुपा है
ये बस खुदा ही जानता है,
दिल अगर बेनकाब होता
तो सोचो कितना फसाद होता।



एडमिन द्वारा दिनाँक 08.06.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

उल्फत का दस्तूर शायरी...


उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है।



एडमिन द्वारा दिनाँक 05.06.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...