होम / कैटेगरी : नफरत शायरी

Hate Shayari in Hindi

गुजरे है इस मुकाम...


गुजरे हैं इश्क़ में हम इस मुकाम से
नफरत सी हो गई है मोहब्बत के नाम से
हम वह नहीं जो मोहब्बत में रो कर के
जिंदगी को गुजार दे...
अगर परछाई भी तेरी नजर आ जाए
तो उसे भी ठोकर मार दें।


गुजरे है इस मुकाम शायरी

अनंत सैनी द्वारा दिनाँक 16.10.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

तेरी नफरतों को प्यार...


तेरी नफरतों को प्यार की खुशबु बना देता,
मेरे बस में अगर होता तुझे उर्दू सीखा देता।

- वसीम बरेलवी


एडमिन द्वारा दिनाँक 12.04.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

नफरत वालों का प्यार...


नफरत करने वाले भी गज़ब का प्यार करते हैं मुझसे,
जब भी मिलते है कहते हैं कि तुझे छोड़ेंगे नहीं ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 24.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें

नफरत बता रही है...


देख कर उसको तेरा यूँ पलट जाना
नफरत बता रही है...
तूने मोहब्बत गज़ब की की थी ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 17.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

मुझे तेरी थी आरज़ू...


वो वक़्त गुजर गया जब मुझे तेरी आरज़ू थी,
अब तू खुदा भी बन जाए तो मैं सज़दा न करूँ ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 17.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...