होम / कैटेगरी : जुदाई शायरी

हिंदी में जुदाई शायरी

सजदों में सिसकता देखो...

आओ किसी शब मुझे टूट के बिखरता देखो,
मेरी रगों में ज़हर जुदाई का उतरता देखो,
किस किस अदा से तुझे माँगा है खुदा से,
आओ कभी मुझे सजदों में सिसकता देखो।

सजदों में सिसकता देखो शायरी
एडमिन द्वारा दिनाँक 11.07.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

सोचा था कि मिटाकर...

सोचा था कि मिटाकर सारी निशानी तेरी,
चैन से सो जायेंगे ।
बंद आँखो ने अक्स देखा तेरा,
तो बेचैन दिल ने पुकारा तुझको ।

सोचा था कि मिटाकर शायरी
एडमिन द्वारा दिनाँक 03.07.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

उस शख्स को बिछड़ने...

उस शख्स को बिछड़ने का सलीका नहीं आता,
जाते जाते खुद को मेरे पास छोड़ गया...।

उस शख्स को बिछड़ने शायरी
एडमिन द्वारा दिनाँक 30.06.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें

हर मुलाक़ात पर वक़्त का...

हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ,
हर याद पर दिल का दर्द ताज़ा हुआ ।

सुनी थी सिर्फ लोगों से जुदाई की बातें,
खुद पर बीती तो हक़ीक़त का अंदाज़ा हुआ ।

हर मुलाक़ात पर वक़्त का शायरी
एडमिन द्वारा दिनाँक 25.06.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

ऐ चाँद चला जा क्यूँ आया है...

ऐ चाँद चला जा
क्यूँ आया है तू मेरी चौखट पर,
छोड़ गया वो शख्स
जिस के धोखे मे तुझे देखते थे ।

ऐ चाँद चला जा क्यूँ आया है शायरी
पंकज कुमार द्वारा दिनाँक 24.06.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें

पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi