होम / कैटेगरी : काश शायरी

Kaash Shayari in Hindi

काश तू इतनी सी...


काश तू इतनी सी मोहब्बत निभा दे,
जब भी मैं रूठूँ तो तू मुझे मना ले।


काश तू इतनी सी शायरी

एडमिन द्वारा दिनाँक 21.10.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

मिल जाते वो अल्फ़ाज़...


काश कहीं से मिल जाते वो अल्फ़ाज़ हमें भी,
जो तुझे बता सकते कि हम शायर कम तेरे आशिक ज्यादा हैं।



अंकित वर्मा द्वारा दिनाँक 27.03.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

ख्वाबों में गुजरा कल...


काश फिर मिलने की वजह मिल जाए,
साथ जितना भी बिताया वो पल मिल जाए,
चलो अपनी अपनी आँखें बंद कर लें,
क्या पता ख़्वाबों में गुज़रा हुआ कल मिल जाए।


ख्वाबों में गुजरा कल शायरी

अखिलेश द्वारा दिनाँक 15.03.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें

वो आकर गले लगाले...


काश... एक ख्वाहिश पूरी हो इबादत के बगैर,
वो आकर गले लगा ले, मेरी इजाजत के बगैर।



एडमिन द्वारा दिनाँक 31.12.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

काश वो आ जायें...


काश वो आ जायें और देख कर कहें मुझसे,
हम मर गये हैं क्या? जो इतने उदास रहते हो।



एडमिन द्वारा दिनाँक 21.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...