होम / कैटेगरी : काश शायरी

हिंदी में काश शायरी

तेरी वफ़ा तेरा हुस्न...

तेरे हुस्न पे तारीफों भरी किताब लिख देता,
काश... तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती ।

एडमिन द्वारा दिनाँक 21.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

क़िस्मत में लिखा होता...

उस की हसरत को मेरे दिल में लिखने वाले,
काश... उसको भी मेरी क़िस्मत में लिखा होता।

एडमिन द्वारा दिनाँक 21.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

तन्हा नहीं करते...

काश... तू समझ सकती मोहब्बत के उसूलो को,
किसी की सांसो में समाकर उसे तन्हा नहीं करते ।

एडमिन द्वारा दिनाँक 14.10.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें

काश तू भी बन जाए...

काश तू भी बन जाए तेरी यादों कि तरह,
न वक़्त देखे न बहाना बस चली आये ।।

काश तू भी बन जाए शायरी
एडमिन द्वारा दिनाँक 06.07.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

वो रोज़ देखता है...

वो रोज़ देखता है डूबते सूरज को इस तरह,
काश मैं भी किसी शाम का मंज़र होता ।।

एडमिन द्वारा दिनाँक 04.02.15 को प्रस्तुत | कमेंट करें

पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi