Search Results for - कृष्ण प्रजापत

बेवफा शायरी

कुछ लोग यहाँ पर...

इकरार बदलते रहते है... इंकार बदलते रहते हैं,
कुछ लोग यहाँ पर ऐसे है जो यार बदलते रहते हैं।

Yaar Badalte Rahte Hain...

Ikraar Badalte Rehte Hain, Inkaar Badalte Rehte Hain,
Kuchh Log Yehan Par Aise Hain Jo Yaar Badalte Rehte Hain.

कृष्ण प्रजापत द्वारा दिनाँक 02-08-2017 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2018 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi