Search Results for - रफत जिगर

बेवफा शायरी

बेवफा नहीं कहता...

वो कहता है... कि मजबूरियां हैं बहुत...
साफ लफ़्ज़ों में खुद को बेवफा नहीं कहता।

Majboori Hai Ya Bewafai...

Wo Kehta Hai... Ke Majbooriyan Hain Bahut,
Saaf Lafzo Mein Khud Ko Bewafa Nahi Kehta.

रफत जिगर द्वारा दिनाँक 01.09.17 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2018 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi