Search Results for - राजेश कुमार

शिक़वा शायरी

कायनात क्या मांगू...

बिछड़ गए हैं जो उनका साथ क्या मांगू,
ज़रा सी उम्र बाकी है इस गम से निजात क्या मांगू,
वो साथ होते तो होती ज़रूरतें भी हमें,
अपने अकेले के लिए कायनात क्या मांगू ।।

Kaaynaat Kya Maangu...

Bichhad Gaye Hain Jo Unka Saath Kya Maangu,
Jara Si Umr Waqi Hai Gham Se Nijaat Kya Maangu,
Wo Saath Hote To Hoti Zarooraten Bhi Hamen,
Apne Akele Ke Liye Kaaynaat Kya Maangu !!

राजेश कुमार द्वारा दिनाँक 11.02.15 को प्रस्तुत
इश्क़ शायरी

होश आये तो क्यों कर...

होश आये तो क्यों कर तेरे दीवाने को,
एक जाता है तो दो आते हैं समझाने को ।

Hosh Aaye To Kyu Kar...

Hosh Aaye To Kyu Kar Tere Deewaane Ko,
Ek Jata Hai To Do Aate Hain Samjhaane Ko!

राजेश कुमार द्वारा दिनाँक 11.02.15 को प्रस्तुत
दर्द शायरी

राज को राज रहने दो...

आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो।

राजेश कुमार वर्मा द्वारा दिनाँक 29.11.16 को प्रस्तुत
शिक़वा शायरी

शिकवे तो कम नहीं...

घुट घुट के जी रहा हूँ तेरी नौकरी में ऐ दिल,
बेहतर तो होगा अब तू कर दे मेरा हिसाब,
शिकवे तो कम नहीं है पर क्या करुं शिकायत,
कहीं हो न जाएं तुझसे रिश्ते मेरा खराब।

राजेश कुमार वर्मा द्वारा दिनाँक 29.11.16 को प्रस्तुत
अरमान शायरी

मुलाकात कीजिये...

अगर हो वक़्त तो मुलाकात कीजिये,
दिल कुछ कहना चाहे कुछ बात कीजिये,
यूँ तो मुश्किल है हमसे दूर रहना,
पर एक लम्हा मिले तो हमें याद कीजिये।

राजेश कुमार द्वारा दिनाँक 15.08.17 को प्रस्तुत

पेज शेयर करें
   
© 2015-2018 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi