Search Results for - विजय सैनी

सुन्दर वाक्य

जिंदगी एक कविता...

जिंदगी एक कविता है गुनगुनाते रहिये...
मुश्किल है लाख फिर भी मुस्कराते रहिये।

विजय सैनी द्वारा दिनाँक 05-09-2017 को प्रस्तुत
फनी शायरी

नहाकर चल दिए...

हम तुम्हारी याद में रो-रो के टब भर दिए,
तुम इतने बेवफा निकले कि नहाकर चल दिए।

विजय सैनी द्वारा दिनाँक 05-09-2017 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2018 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi