Search Results for - शिवांगी सक्सेना

दोस्ती शायरी

दोस्ती बड़ा रिश्ता नहीं...

प्यार का रिश्ता इतना गहरा नहीं होता,
दोस्ती के रिश्ते से बड़ा कोई रिश्ता नहीं होता,
कहा था इस दोस्ती को प्यार में न बदलो,
क्यूंकि प्यार में धोखे के सिवा कुछ नहीं होता।

शिवांगी सक्सेना द्वारा दिनाँक 30.09.17 को प्रस्तुत
उदासी शायरी

तेरी मौजूदगी का अहसास...

तू हमसफ़र तू हमडगर तू हमराज नजर आता है,
मेरी अधूरी सी जिंदगी का ख्वाब नजर आता है,
कैसी उदास है जिंदगी... बिन तेरे... हर लम्हा,
मेरे हर लम्हे में तेरी मौजूदगी का अहसास नजर आता है।

शिवांगी सक्सेना द्वारा दिनाँक 30.09.17 को प्रस्तुत
दर्द शायरी

हर दर्द का हिसाब...

अगर मैं लिखूं तो पूरी किताब लिख दूँ,
तेरे दिए हर दर्द का हिसाब लिख दूँ,
डरती हूँ कहीं तू बदनाम ना हो जाए,
वरना तेरे हर दर्द की कहानी मेरा हर ख्वाब लिख दूँ।

~ शिवी

शिवांगी सक्सेना द्वारा दिनाँक 30.09.17 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi