Search Results for - Anil Kumar Sahu

याद शायरी

दोस्तों ये यादें भी...

दोस्तों ये यादें भी बहुत ही जालिम चीज़ होती है,
कभी ये हंसाती हैं ख़ुशियों के पलों के साथ।
कभी ये रुलाती हैं गम की बातो के साथ।

Dosto Ye Yaanein Bhi...

Dosto Yeh Yaadein Bhi Bahut Hi Zalim Cheej Hoti Hain,
Kabhi Yeh Hansaati Hain Khushiyon Ke Palo Ke Saath,
Kabhi Yeh Rulati Hain Gham Ki Baaton Ke Saath.

अनिल कुमार साहू द्वारा दिनाँक 18.04.16 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2017 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi