Search Results for - Shivangi Saxena

दर्द शायरी

हर दर्द का हिसाब...

अगर मैं लिखूं तो पूरी किताब लिख दूँ,
तेरे दिए हर दर्द का हिसाब लिख दूँ,
डरती हूँ कहीं तू बदनाम ना हो जाए,
वरना तेरे हर दर्द की कहानी मेरा हर ख्वाब लिख दूँ।

~ शिवी

Mere Dard Ki Kahani...

Agar Main Likhun Toh Poori Kitaab Likh Dun,
Tere Diye Har Dard Ka Hisaab Likh Dun,
Darte Hain Kahin Tu BadNaam Na Ho Jaye,
Varna Tere Har Dard Ki Kahani...
Mera Har Khwab Likh Dun.

शिवांगी सक्सेना द्वारा दिनाँक 30.09.17 को प्रस्तुत
पेज शेयर करें
   
© 2015-2018 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi