होम / कैटेगरी : याद शायरी

Yaad Shayari in Hindi

यादों का बाजार...


खुल जाता है तेरी यादों का बाजार सरेआम,
फिर मेरी रात इसी रौनक में गुजर जाती है।


यादों का बाजार शायरी

एडमिन द्वारा दिनाँक 08.12.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

आँखें छलक पड़ीं...


आया ही था खयाल कि आँखें छलक पड़ीं,
आँसू किसी की याद के कितने करीब हैं।


आँखें छलक पड़ीं शायरी

एडमिन द्वारा दिनाँक 07.12.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

याद करने की बीमारी...


खामोशी और तन्हाई हमें प्यारी हो गई है,
आजकल रातों से यारी हो गई है,
सारी सारी रात तुम्हें याद करते हैं,
शायद तुम्हें याद करने की बीमारी हो गई है।



मुकेश राज यादव द्वारा दिनाँक 03.12.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें

याद में जलने से अच्छा...


तुम्हारी याद में यूँ जलने से अच्छा है कि
सिगरेट जला कर ही जल लेता हूँ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 24.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

याद उस लम्हे की...


याद उस लम्हे की जब भी जेहन में आती है,
मोहब्बत कसक बनके उभर आती है।


याद उस लम्हे की शायरी

प्रियादीप द्वारा दिनाँक 03.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...