-Advertisement-

Ajeeb Shakhs Hai

अजीब शख्स है​ नारा​ज ​हो के हँसता है,
मैं चाहता हूँ खफा हो, तो खफा ही लगे।
Ajeeb Shakhs Hai Naraaj Ho Ke Hansta Hai,
Main Chahta Hoon Khafa Ho, To Khafa Hi Lage.

उड़ने दो परिंदों को अभी शोख़ हवा में,
फिर लौट के बचपन के ज़माने नहीं आते।
Udne Do Parindon Ko Abhi Shokh Hawa Mein,
Fir Laut Ke Bachpan Ke Zamane Nahi Aate.

-Advertisement-
-Advertisement-
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi