होम / कैटेगरी : शराब शायरी

हिंदी में शराब शायरी

पीने-पिलाने की बातें...

यूँ न करो हम से पीने-पिलाने की बातें,
वो भी क्या दिन थे जब हम पिया करते थे,
जितनी तुम्हारे जाम में होती है शराब,
उतनी हम पैमाने में छोड़ दिया करते थे।

पीने-पिलाने की बातें शायरी

-Advertisement-

मैं शराबी न होता...

अगर ग़म मोहब्बत पे हाबी न होता,
खुदा की कसम मैं शराबी न होता।

-Advertisement-

मौसम भी है शराब भी...

मौसम भी है, उम्र भी, शराब भी है,
पहलू में वो रश्के-माहताब भी है,
दुनिया में अब और चाहिए क्या मुझको,
साक़ी भी है, साज़ भी है, शराब भी है।

पिला दे साक़िया...

मौका मिला है कुछ तो ख़ुलूस दिखा दे साक़िया,
क्या पता... कल तेरी महफ़िल में हम हों कि न हों,
उठा के जाम अपने हाथों से पिला दे साक़िया,
क्या पता... कल तेरी महफ़िल में हम हों कि न हों।

पिला दे साक़िया शायरी

-Advertisement-

ज़र्फ़ रिंदों का...

खरीदा जा नहीं सकता है साक़ी ज़र्फ़ रिंदों का,
बहुत शीशे पिघलते हैं तो एक पैमाना बनता है।

हमसे जुड़ें
फेसबुक पेज
पेज शेयर करें
 
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi