होम / कैटेगरी : दर्द शायरी

हिंदी में दर्द शायरी

मेरे दर्द की शिकायत...

मेरे दर्द ने मेरे ज़ख्मों से शिकायत की है,
आँसुओं ने मेरे सब्र से बगावत की है,
ग़म मिला है तेरी चाहत के समंदर में,
हाँ मेरा जुर्म है कि मैंने मोहब्बत की है।

मेरे दर्द की शिकायत शायरी

-Advertisement-

तुझे जब देखता हूँ...

तुझे जब देखता हूँ तो खुद अपनी याद आती है,
मेरा अंदाज़ हँसने का... कभी तेरे ही जैसा था।

-Advertisement-

मेरे दर्द की कैफियत...

बहुत जुदा है औरों से
मेरे दर्द की कैफियत,
ज़ख्म का कोई पता नहीं और
तकलीफ की इन्तेहाँ नहीं।

मेरे दर्द की कैफियत शायरी

दर्द की कीमत...

देने आये हैं मेरे दर्द की कीमत मुझको,
इतने हमदर्द हैं न जाने क्यों लोग मेरे।

-Advertisement-

खूने-दिल से मेंहदी...

वो आज खूने-दिल से मेंहदी लगाये बैठे हैं,
सारे किस्से मेरे दिल से लगाये बैठे हैं,
ख़ामोशी में भी एक शोर है उनकी,
सुर्ख जोड़े में खुद को बेवा बनाये बैठे हैं।

हमसे जुड़ें
फेसबुक पेज
पेज शेयर करें
 
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi