होम / कैटेगरी : तारीफ़ शायरी

हिंदी में तारीफ़ शायरी

चर्चे तेरी आँखों के...

कैदखाने हैं बिना सलाखों के,
कुछ यूं चर्चे हैं तेरी आँखों के।

चर्चे तेरी आँखों के शायरी
निक द्वारा दिनाँक 14-10-2018 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

चाँद की औकात...

जरा उतर के देख मेरे दिल की गहराइयों में,
कि तुझे भी मेरे जज़्बात का पता चले,
दिल करता है चाँद को खड़ा कर दूं तेरे आगे,
जरा उसे भी तो अपनी औकात का पता चले।

नीरज चौधरी द्वारा दिनाँक 13-10-2018 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

चाँद छुप जायेगा...

यूँ न निकला करो आज कल रात को,
चाँद छुप जायेगा देख कर आप को।

चाँद छुप जायेगा शायरी
जितेंद्र द्वारा दिनाँक 12-08-2018 को प्रस्तुत | कमेंट करें

आँखें तुम्हारी...

कितनी खूबसूरत हैं आँखें तुम्हारी,
बना दीजिये इनको किस्मत हमारी,
इस ज़िंदगी में हमें और क्या चाहिए,
अगर मिल जाए मोहब्बत तुम्हारी।

अब्दुल वारिस द्वारा दिनाँक 06-05-2018 को प्रस्तुत | कमेंट करें
-Advertisement-

आँखों से गज़ल...

हम तो अल्फाज़ ही ढूढ़ते रह गए,
और वो आँखों से गज़ल कह गए।

अमित नाग द्वारा दिनाँक 19-04-2018 को प्रस्तुत | कमेंट करें

हमसे जुड़ें
फेसबुक पेज
पेज शेयर करें
 
© 2015-2019 हिंदी-शायरी.इन | डिसक्लेमर | संपर्क करें | साईटमैप
Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi