Shikwa Shayari in Hindi

मेरी भूल की सजा...

मेरी भूल की सजा कब तक दोगे,
कब तक मुझसे रूठे रहोगे,
माफ़ कर दो अब तो मुझे,
यूं ही कब तक खफा रहोगे।

-Advertisement-

बातों का रुख...

कहते-कहते बदल देता है क्यूँ बातों का रुख,
क्यूँ खुद अपने आप के साथ वो सच्चा नहीं।

-Advertisement-

किस तरह ऐतबार करें...

Kab Talak Tujh Pe Inhisar Karein,
Kyun Na Ab Doosron Se Pyar Karein,
Tu Kabhi Waqt Par Nahi Pahuncha,
Kis Tarah Tera Aitbaar Karein.

कब तलक तुझपे इंहिसार करें,
क्यों न अब दूसरों से प्यार करें,
तू कभी वक़्त पर नहीं पहुंचा,
किस तरह तेरा ऐतबार करें।

- सईद वासी शाह

शिक़वा तुम्हारा न कर सके...

Ek Pal Ki Judai Bhi Ganwara Na Kar Sake,
Aisa Wala Ishq Hum Dobara Na Kar Sake,
Zindagi Bhar Palat Ke Bhi Na Dekha Tumne,
Hum Fir Bhi Shiqwa Tumhara Naa Kar Sake.

एक पल की जुदाई भी गंवारा न कर सके,
ऐसा वाला इश्क़ हम दोबारा न कर सके,
ज़िन्दगी भर पलट के भी न देखा तुमने,
हम फिर भी शिक़वा तुम्हारा न कर सके।

-Advertisement-

Kyun Apne Is Ashiq Ka...

Kyun Apne Is Ashiq Ka, Parwaano Mein Naam Lete Ho,
Keh Kar Ki Dil Doge... Humari Jaan Lete Ho,
Pata Hai Nahi Rakh Sakte, Hum Apni Dhadkano Pe Kaaboo,
Phir Kyun Humari Mohabbat Ka Imtehaan Lete Ho.

क्यों अपने इस आशिक का, परवानों में नाम लेते हो,
कह कर कि दिल दोगे... हमारी जान लेते हो,
पता है नहीं रख सकते, हम अपनी धड़कनों पे काबू,
फिर क्यों हमारी मोहब्बत का इम्तिहान लेते हो।

Best Shayari in hindi | Love Sad Funny Shayari and Status in Hindi