होम / कैटेगरी : जुदाई शायरी

Judaai Shayari in Hindi

जुदाई के मोड़ पर...


यह हम ही जानते हैं जुदाई के मोड़ पर,
इस दिल का जो भी हाल तुझे देख कर हुआ।



एडमिन द्वारा दिनाँक 18.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

जुदाई का मलाल...


जब तक मिले न थे जुदाई का था मलाल,
अब ये मलाल है कि तमन्ना निकल गई।



एडमिन द्वारा दिनाँक 03.11.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

तो जुदाई भी नहीं...


अब अगर मेल नहीं है तो जुदाई भी नहीं,
बात तोड़ी भी नहीं तुमने तो बनाई भी नहीं।



एडमिन द्वारा दिनाँक 16.10.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें

मार डालेगी जुदाई...


हमें ये मोहब्बत किस मोड़ पे ले आई,
दिल में दर्द है और ज़माने में रुसवाई,
कटता है हर एक पल सौ बरस के बराबर,
अब मार ही डालेगी मुझे तेरी जुदाई।



एडमिन द्वारा दिनाँक 12.10.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Advertisement

दिल से जुदा होना...


इतना बेताब न हो मुझसे बिछड़ने के लिए,
तुझे आँखों से नहीं मेरे दिल से जुदा होना है।



एडमिन द्वारा दिनाँक 15.09.16 को प्रस्तुत | कमेंट करें
Ads from AdNow
loading...